UPI का इस्तेमाल करने वाले सावधान, सुरक्षित नहीं आपकी ये ऐप

टेक्नोलॉजी से हमारा जीवन जितनी आसान हुआ है व उतनी परेशानी भी बढ़ रही है। साइबर क्राइम की खबरे हम रोजाना पढ़ते रहते है। टेक्नोलॉजी कई प्रकार के क्राइम बढ़ रहे है। आज के समय में हर किसी के पास स्मार्ट फोन है और लगभग सभी यूपीआई पेमेंट के जरिए लेन-देन करते है।

upi

टेक्नोलॉजी से हमारा जीवन जितनी आसान हुआ है व उतनी परेशानी भी बढ़ रही है। साइबर क्राइम की खबरे हम रोजाना पढ़ते रहते है। टेक्नोलॉजी कई प्रकार के क्राइम बढ़ रहे है। आज के समय में हर किसी के पास स्मार्ट फोन है और लगभग सभी यूपीआई पेमेंट के जरिए लेन-देन करते है। हाल ही में एक ऐसी घटना सामने आई है जिसे पढ़कर आप चौंक जाएंगे। एक व्यक्ति से यूपीआई के जरिए धोखाधड़ी करके 80 हजार रुपये पार कर दिए गए। सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म लिंक्डइन पर शेयर किए गए एक वीडियो में पीड़ित ने अपनी आपबीती बनाई है।
यह भी पढ़े :— कोरोना वायरस में कौन सा हेल्थ इंश्योरेंस है बेहतर, ताकि ना पड़े जेब पर भारी
 
महंगा पड़ा कूलर का विज्ञापन देनासोाशल मीडिया पर वायरल हो रहे इस वीडियो में यह शख्स बताया है कि कैसे फोन पे और ओएलएक्स के जरिए उसके 80,000 निकाल लिए गए। व्यक्ति का कहना है कि उसने कूलर को ओएलएक्स की वेबसाइट OLX.in पर बेचने के लिए विज्ञापन दिया। उस कूलर के लिए लखनऊ के एक आदमी ने इच्छा जताई। पीड़ित को बताया गया कि दो लोग गाड़ी लेकर जा रहे हैं वे कूलर को ले लेंगे। इसके बाद उस आदमी ने कहा कि वह कैश नहीं दे पाएंगा। अपना गूगल पे या फोन पे का नंबर बता दीजिए ताकि मैं आपको पैसे ट्रांसफर कर दूं। पीड़ित व्यक्ति ने कहा कि मैं इन ऐप का इस्तेमाल नहीं करता हूं और मैंने अपनी पत्नी का फोन पे का नंबर व्यापारी को दे दिया।
 
यह भी पढ़े :— ना मास्क, ना फेस शील्ड यह कपल पहनता है ‘ट्रांसपेरेंट ट्यूब’, देखें मजेदार वीडियो
80 हजार रुपये का लगा चूनाउस आदमी ने पहले दस रुपए भेजे। पीड़ित से कहा कि होम स्क्रीन के ऊपर आपको एक बेल आइकन दिख रहा होगा। पीड़ित व्यक्ति ने कहा कि बेल स्क्रीन को क्लिक करने के बाद 10 रुपये आ गए लेकिन कुछ ही समय बाद थोड़े-थोड़े करके 80 हजार रुपये अकाउंट से चले गए। उस आदमी से पूछने पर बताया कि यह पैसे गलती से डेबिट हो गए हैं और वापस आ जाएंगे। यह सुनकर पीड़ित व्यक्ति की पत्नी रोने लग गई और 15-20 मिनट के भीतर ही एसबीआई के ब्रांच दोनों लोग गए लेकिन ब्रांच के वरिष्ठ अधिकारियों ने कहा कि अब आपके पैसे वापस नहीं मिल पाएंगे। इसके बादे पीड़ित ने साइबर क्राइम में मामला दर्ज करवाया। साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि किसी को भी यूपीआई का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए।

UPI payment
UPI payment

Related posts