उपचुनावः नालायक, गद्दार से दुष्ट तक पहुंची जुबानी जंग

चुनावी समर में शिवराज-सिंधिया और कमलनाथ में जुबानी जंग तेज

इंदौर. सांवेर में 2400 करोड़ की महत्वाकांक्षी नर्मदा सिंचाई परियोजना का मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया ने शनिवार को शिलान्यास किया। नर्मदा घाटी विकास प्राधिकरण के कार्यक्रम में भाजपा ने आगामी उपचुनाव को लेकर शक्ति प्रदर्शन किया। इस मौके पर मुख्यमंत्री ने कमलनाथ के नालायक वाले बयान पर पर कहा कि जनता को धोखा देने वाले मुझे नालायक कह रहे हैं।
‘कहां फंसे थे, बड़ी देर करी नंदलाला’देवास के बरोठा में शनिवार को आयोजित सभा में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि जनता ने कांग्रेस को वोट छिंदवाड़ा की तरफ देखकर नहीं, बल्कि सिंधिया की ओर देखकर दिए थे। मुख्यमंत्री ने सांसद सिंधिया की तरह देखते हुए कहा कि ‘कहां फंसे थे दुष्टन में, बड़ी देर करी नन्दलाला।Ó कमलनाथ ने मनोज चौधरी ही नहीं बल्कि हाटपीपल्या की जनता को बेइज्जत किया है।
‘कमलनाथ ने सभी वर्गों से की गद्दारी’धार की बदनावर विधानसभा के कोटेश्वर में आयोजित सभा में ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा कि कमलनाथ युवाओं को रोजगार नहीं दे पाए, बेरोजगारों को भत्ता भी नहीं दिया। उन्होंने समाज के सभी वर्गों के साथ गद्दारी की। इधर, सभास्थल पर जाते समय बुलगारा फाटे पर कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने सिंधिया, शिवराज सिंह वापस जाओ के नारे लगाए। इन्हें हिरासत में लिया गया है।
सरकारी खजाने से प्रचार
पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने आरोप लगाया है कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान सरकारी खजाने से होने वाले आयोजनों से भाजपा का प्रचार कर रहे हैं। जनता इसका हिसाब लेगी। कांग्रेस भी इस मामले को चुनाव आयोग से लेकर न्यायालय और जनता की अदालत में लेकर जाएगी। कमलनाथ ने कहा कि 15 साल की सरकार में शिवराज सिंह ने आयोजनों और यात्राओं के नाम पर सरकारी खजाने और जनता की गाढ़ी कमाई को जमकर लुटाया था। इससे प्रदेश को हर नागरिक को कर्जदार बना दिया। कमलनाथ ने कहा कि यदि शिवराज राजनीतिक आयोजन भाजपा के बैनर तले कराएं और खर्च भाजपा उठाए। भाजपा अधिकारियों के भरोसे चुनाव जीतना चाहती है।
[embedded content]

Related posts