गजब : चाचा को सर्राफ की दुकान पर गिरवी रख उड़ा ले गए लाखों के जेवर

मेरठ ( Meerut ) घर में शादी की बात कहकर सर्राफ की दुकान से जेवर खरीदे फिर नकली चाचा को गिरवी के तौर पर रखकर फर्जी चेक देकर लाखों के जेवर उड़ा दिए।
यह भी पढ़ें: कोरोना वायरस के लक्षण दिखने पर यशोदा अस्पताल भर्ती कराए गए ‘मोदी’
किठौर थाना क्षेत्र के कस्बा शाहजहांपुर निवासी आदेश पुत्र सरोज की कस्बे में महलवाला मार्ग पर एके ज्वैलर्स की नाम से दुकान है। शुक्रवार सुबह आदेश की दुकान पर दो ग्राहक आए जिन्होंने अपना नाम इमरान निवासी अजराड़ा थाना मुंडाली बताया और कहा कि उनके घर में शादी होने वाली है और वे जेवर खरीदना चाहते हैंं। उनके साथ एक बुजुर्ग भी था, जिसे ठगों ने अपना चाचा बताया। दुकानदार के अनुसार दोनों ने करीब दो लाख की कीमत की ज्वैलरी खरीदी। ज्वैलरी खरीदने के बाद दोनों ने कैश ना होने की बात कहते हुए दो लाख रूपये का भारतीय स्टेट बैंक का चेक दुकानदार को सौंप दिया। जिसे लेने से दुकानदार ने मना कर दिया। इसके बाद युवकों ने अपने साथ लाए बुजुर्ग को वहां बैठाते हुए कहा कि जब तक चेक क्लीयर नहीं होता उनके चाचा दुकान पर बैठे हैं।
यह भी पढ़ें: सावधान: बच्चों के लिए वायरस ही नहीं मास्क भी नुकसानदायक, जानिए कैसे
बैंक खुलने पर जब दुकानदार चेक को भुनाने पहुंचा तो बैंक कर्मचारी ने चेक को फर्जी बताया। जब दुकानदार को ठगी का अहसास हुआ तो उसने दुकान पर बैठे पर बुजुर्ग से पूछताछ की लेकिन बुजुर्ग कुछ जानकारी नहीं दे पाया जिसके बाद दुकानदार व ग्रामीणों ने बुजुर्ग की पिटाई करते हुए पुलिस को सूचना दी। सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची और बुजर्ग को हिरासत में लेकर थाने ले आई, पुलिस पूछताछ कर मामले की जांच पडताल मे जुटी है।
यह भी पढ़ें: कृषि बिल का विरोध: वेस्ट में फूटा किसानों का गुस्सा, जमकर प्रदर्शन, हाइवे रहे जाम
बुजुर्ग ने बताया कि वह इस बारे में कुछ नहीं जानता, दो युवकों ने उसको 500 रूपये दिए थे और उसको अपने साथ दुकान पर ले गए थे। बुजुर्ग ने अपनी जेब से 500 रूपये भी निकालकर पुलिस को दे दिए। पीड़ित सर्राफ ने थाने में तहरीर दी है जिस पर पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर लिया है, वहीं बुजुर्ग भी पुलिस हिरासत में है। वह कुछ भी बताने की स्थिति में नहीं है।

Related posts