कृषि अध्यादेश के खिलाफ किसानों का जोन में 121 स्थानों पर प्रदर्शन, चप्पे-चप्पे पर पुलिस बल तैनात

Highlights
हाइवे पीएसी ओर आरएएफ के हवाले
पूरे जोन में तीन स्तरीय सुरक्षा व्यवस्था

मेरठ। कृषि अध्यादेश के खिलाफ आज प्रदेशव्यापी बंद को लेकर जोन में अलर्ट है। जोन में करीब 121 स्थानों पर प्रदर्शन की घोषणा की गई है। जिसको लेकर पुलिस,पीएएसी और आरएएफ भी लगाई गई है। हाईवे को पूरी तरह से पीएसी और आरएएफ के हवाले कर दिया है। जोन में तीन स्तरीय सुरक्षा व्यवस्था का खाका आईजी और एडीजी ने तैयार किया है। जिसके मुताबिक जिले के भीतर और ग्रामीण क्षेत्रों में किसानों के प्रदर्शन के दौरान किसी प्रकार की अव्यवस्था न हो इसके लिए पुलिस और थाना पुलिस को जिम्मेदारी सौंपी गई है। वहीं संवेदनशील स्थानों की जिम्मेदारी पीएसी को सौंपी गई है। जबकि हाईवे पर पीएसी और आरएएफ दोनों ही तैनात किए गए हैं। जोन में आज 121 स्थानों पर जबदरस्त प्रदर्शन की तैयारी है।
केंद्र सरकार की ओर से पारित किए गए कृषि विधेयकों सहित अनेक समस्याओं को लेकर किसानों में उबाल है। किसान इन विधेयकों को वापस लेने या संशोधन करने की मांग कर रहे हैं। लेकिन सरकार की ओर से अब तक इस ओर कोई सकारात्मक जवाब नहीं मिला है। इसके विरोध में भाकियू ने मेरठ समेत पूरे वेस्ट यूपी ट्रैफ़िक जाम के दौरान किसी को भी सड़क पार नहीं करने दी जाएगी। राष्ट्रीय किसान मजदूर संगठन ने भी ट्रैफिक जाम का समर्थन किया है।
भाकियू द्वारा कृषि विधेयकों के विरोध में आज सुबह दस बजे से शाम चार बजे तक पूर्ण रूप से जाम किया जाएगा। मेरठ पुलिस-प्रशासन द्वारा अलर्ट जारी करते हुए सभी अफसरों व पुलिसकर्मियों को मुस्तैद रहने के निर्देश दिए गए हैं। एसएसपी अजय साहनी ने बताया कि जनपद में भाकियू द्वारा सभी प्वाइंट्स पर जाम प्रस्तावित है, जहां संबंधित सीओ के साथ ही एसडीएम की भी ड्यूटी लगाई गई है।
सभी प्वाइंट्स पर पुलिस फोर्स के साथ ही पीएसी के जवान भी मौजूद रहेंगे। पुलिस का पूरा फोकस इस पर रहेगा कि संबंधित जाम के स्थान पर किसी भी तरह की कानून व्यवस्था की स्थिति बिगड़ने की स्थिति उत्पन्न न होने पाए। एसएसपी ने बताया कि उक्त स्थानों के अलावा, शहर क्षेत्र में भी सतर्कता रखी जाएगी। किसी भी तरह का जाम न लगे, इसके लिए ट्रैफिक पुलिसकर्मियों को जरूरी दिशा-निर्देश दिए गए हैं।

farmer farmers protest News in Hindi Meerut police
farmer farmers protest News in Hindi Meerut police

Related posts