अपनी मांगाें काे लेकर दिल्ली जंतर-मंतर जा रहे किसानाें काे यूपी गेट पर राेका गया

दिल्ली जंतर-मंतर जा रहे किसानाें काे यूपी पर गेट पर राेका गया
जंतर-मंतर पर धरना देने के लिए किसान जा रहे थे दिल्ली
यूपी गेट पर राेके जाने पर धरना देकर बैठे

ghazibad

गाजियाबाद। भारतीय किसान यूनियन के बैनर तले सैकड़ों की संख्या में किसानों ने जंतर मंतर दिल्ली के लिए कूंच किया। पश्चिमी उत्तर प्रदेश के तमाम किसान गाजियाबाद यूपी बॉर्डर तक तो पहुंचे तो यूपी बॉर्डर पर उन्हें रोक दिया गया। फिलहाल सभी किसान यूपी बॉर्डर पर धरने पर बैठे हुए हैं। किसान यूनियन का कहना है कि आज जो तीन अध्यादेश बिल पेश किये जा रहे हैं। वह किसानों के हित में नहीं है । इसलिए तमाम किसान इन बिलों का विरोध करते हैं।
यह भी पढ़ें: Hindi Diwas : जब IAS officer ने मंच से खोल दी इंग्लिश की पोल और डेढ़ मिनट में समझा दी हिंदी की खूबियां, देखें वीडियो
किसान यूनियन के राष्ट्रीय प्रवक्ता ने कहा कि उन्हे राेका जा रहा है। किसान विराेधी बिल लाए जा रहे हैं। पहला संशोधन मंडी एक्ट में संशोधन किया जा रहा है। नए नियम के तहत यदि कोई किसान मंडी में फसल लेकर आता है तो उस पर टैक्स लगेगा और अगर बाहर बेचेगा तो वह टैक्स फ्री होगा। यह किसान के हित में नहीं है। जब बाहर टैक्स फ्री होगा तो मंडी पर भी टैक्स फ्री होना चाहिए उन्होंने कहा कि यह एक योजना के तहत मंडी को खत्म करने की साजिश रची जा रही है। यह एनएसबी को खत्म करने की साजिश की जा रही है। इसके अलावा दो अन्य ऐसे बिल हैं जो किसानों के हित में नहीं है। इन तीनों बिलों का किसान भरपूर विरोध करते हैं। उन्होंने कहा कि सभी किसानों को रोक दिया गया है। केवल यह कहा गया है कि यदि ज्ञापन देना है तो ज्ञापन देने वाले चंद लोग ही दिल्ली में प्रवेश कर सकते हैं। उन्होंने बताया कि जगह-जगह से किसान अपनी बात रखने के लिए जंतर-मंतर पहुंच रहे हैं लेकिन किसी भी किसान को जंतर-मंतर तक नहीं जाने दिया जा रहा है।
यह भी पढ़ें: किसान आंदाेलन: हाइवे पर अर्धनग्न होकर निकला किसानों का हुजूम, फाेर्स ने बनाया घेरा
इसके अलावा गाजियाबाद किसान यूनियन के जिला अध्यक्ष विजेंद्र सिंह ने बताया कि पश्चिमी उत्तर प्रदेश के तमाम किसान बिल पास किए जाने के लिए दिल्ली जा रहे थे क्योंकि किसानों का गला घोंटने का कार्य किया जा रहा है। यह तीन अध्यादेश बिल पास हो रहे हैं किसानों के हित में नहीं है। हरियाणा से भी किसान आए हैं तो किसानों पर लाठीचार्ज किया गया है और पश्चिमी उत्तर प्रदेश से जो किसान आए हैं उन्हें यूपी गेट पर रोक दिया गया है। जिसके चलते अब सड़क पर ही दरी बिछाने को मजबूर है।
यह भी पढ़ें: देश को राष्ट्रीय एकता की कड़ी में जोड़ती है हिंदी: हरिओम पंवार
उधर यूपी पुलिस का कहना है कि किसान बड़ी संख्या में एकत्र होकर दिल्ली जा रहे थे जिन्हें दिल्ली पुलिस के द्वारा रोका गया है। फिलहाल यूपी गेट पर दरी बिछाकर बैठ गए हैं। वह शांति पूर्वक बैठे हैं वहां से रास्ता बदल दिया गया है और शांति पूर्वक उनका धरना चल रहा है।

ghazibad
ghazibad

Related posts

Leave a Comment