खुशखबरी : साढ़े तीन लाख से ज्यादा सरकारी कर्मचारियों एवं पेंशनर्स का होगा मुफ्त इलाज

उत्तराखंड के साढ़े तीन लाख से अधिक सरकारी कर्मचारियों एवं पेंशनर्स को अटल आयुष्मान योजना में अनलिमिटेड इलाज की सुविधा मिलेगी। अटल आयुष्मान सोसायटी की ओर से इसका प्रस्ताव तैयार किया जा रहा है। 
राज्य सरकार ने सभी सरकारी कर्मचारियों एवं पेंशनर्स को अटल आयुष्मान योजना के दायरे में लाने का निर्णय लिया है। लेकिन एक साल से इस योजना पर अमल नहीं हो पाया है। सरकार ने अभी तक कर्मचारियों को भी पांच लाख के बीमा की सुविधा देने की योजना बनाई थी। इस पर कर्मचारियों के विरोध को देखते हुए अब इलाज की सीमा को पांच लाख से बढ़ाकर अनलिमिटेड किया जा रहा है। इसके साथ ही कुछ बीमारियों के मामले में सरकारी अस्पतालों से रेफर होने की अनिवार्यता को भी खत्म किया जा रहा है।
अटल आयुष्मान सोसायटी से जुड़े सूत्रों ने बताया कि आयुष्मान योजना में कर्मचारियों को इलाज का प्रस्ताव तैयार किया जा रहा है जो अगली कैबिनेट की बैठक में रखा जाएगा। कैबिनेट की मुहर लगने के बाद इस योजना पर अमल शुरू होगा। 
प्राइवेट अस्पतालों की संख्या बढ़ेगी आयुष्मान योजना के तहत राज्य में अभी 180 के करीब अस्पताल इम्पैनल्ड हुए हैं। अब इन अस्पतालों की संख्या बढ़ाई जा रही है। खासकर राज्य के सभी प्रमुख प्राइवेट अस्पतालों को योजना में शामिल कराया जा रहा है। इसके साथ ही देश के नामी अस्पतालों के साथ ही नए सिरे से संपर्क करने की कोशिश की जा रही है। 
राज्य के 60 लाख लोगों के बनेंगे कार्ड अटल आयुष्मान सोसायटी के मुख्य कार्यकारी अधिकारी अरुणेंद्र सिंह चौहान ने बताया कि राज्य की एक करोड़ आबादी में से तकरीबन 60 लाख के करीब लोग योजना के दायरे में आएंगे। उन्होंने बताया कि राज्य में अभी तक 34 लाख लोगों के आयुष्मान कार्ड बन चुके हैं। जबकि अन्य लोगों के कार्ड बनाने की प्रक्रिया को तेज किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि राज्य कर्मचारी बीमा निगम, केंद्रीय कर्मचारी बीमा निगम, पूर्व सैनिक और सैनिक परिवारों के लोग अन्य बीमा योजनाओं के दायरे में होने की वजह से इस योजना के दायरे में नहीं आएंगे। 

Related posts

Leave a Comment