Maharashtra Crisis: महाराष्ट्र में सरकार गठन की कोशिशें तेज, कांग्रेस-NCP की बैठक आज

महाराष्ट्र में सरकार बनाने को लेकर कोशिशें तेज हो गई हैं। शिवसेना के साथ गठबंधन और न्यूनतम साझा कार्यक्रम पर चर्चा करने के लिए कांग्रेस और राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के नेताओं की बुधवार शाम बैठक होगी। यह बैठक सोमवार को होनी तय थी, पर पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी के जन्मदिन की वजह से बैठक को स्थगित कर दिया है। हालांकि, कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने महाराष्ट्र के मुद्दे पर वरिष्ठ नेताओं के साथ चर्चा की है।
पार्टी के एक वरिष्ठ नेता ने कहा कि शिवसेना के साथ गठबंधन एक बड़ा निर्णय है। इसलिए, गठबंधन से पहले सभी मुद्दों पर सहमति बनाना जरूरी है। कांग्रेस और शिवसेना के बीच कई मुद्दों पर राय अलग है। इनमें वीर सावरकर को भारत रत्न की मांग, नागरिकता संशोधन कानून और एनआरसी शामिल हैं। कांग्रेस की कोशिश है कि इन सभी विषयों को न्यूनतम साझा कार्यक्रम में शामिल किया जाए।
महाराष्ट्र के वरिष्ठ नेता ने कहा कि कुछ मुद्दों पर शिवसेना के साथ मतभेद हैं, पर गठबंधन के सहयोगियों की राय अलग-अलग हो सकती है। एनडीए में रहते हुए शिवसेना ने कई मुद्दों पर भाजपा से अलग फैसला किया है। इसलिए, इसे बहुत बड़ा मुद्दा नहीं बनाना चाहिए। इस बीच, शिवसेना के नेता संजय राउत ने एनसीपी अध्यक्ष शरद पवार से मुलाकात कर गठबंधन पर चर्चा की है।
कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी की अध्यक्षता में मंगलवार को पार्टी के वरिष्ठ नेता एके एंटनी, अहमद पटेल और महासचिव और महाराष्ट्र प्रभारी मल्लिकार्जुन खडगे के साथ बैठक की। पार्टी के एक वरिष्ठ नेता ने कहा कि कांग्रेस शिवसेना के साथ गठबंधन पर जल्द फैसला करने के हक में है। ऐसे में कांग्रेस इस मुद्दे पर एनसीपी से भी बात करना चाहती है, ताकि स्थिति साफ हो सके।
ये भी पढ़ें: महाराष्ट्र में नया ट्विस्ट, संजय राउत बोले-पवार क्या कहते हैं समझने के लिए 100 बार लेना होगा जन्म

Related posts

Leave a Comment