PM Modi ने लगा दी जिस चीज पर रोक, Air India में उसी का हो रहा इस्तेमाल, समाजसेवी ने कर दी शिकायत

PM Modi ने लगा दी जिस चीज पर रोक, Air India में उसी का हो रहा इस्तेमाल, समाजसेवी ने कर दी शिकायत

Highlights:
-केंद्र सरकार की ही एक इकाई ‘एयर इंडिया ‘ में प्लास्टिक का भरपूर उपयोग हो रहा है
-यह कहना है नोएडा के समाजसेवी एवं अधिवक्ता रंजन तोमर का
-जिन्होंने नागरिक उड्डयन मंत्रालय में एयर इंडिया के खिलाफ एक शिकायत दर्ज करवाई है

नोएडा। देश भर में प्लास्टिक के खिलाफ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा चलाये जा रहे अभियान के बावजूद केंद्र सरकार की ही एक इकाई ‘एयर इंडिया ‘ में प्लास्टिक का भरपूर उपयोग हो रहा है। यह कहना है नोएडा के समाजसेवी एवं अधिवक्ता रंजन तोमर का। जिन्होंने नागरिक उड्डयन मंत्रालय में एयर इंडिया के खिलाफ एक शिकायत दर्ज करवाई है।
यह भी पढ़ें : सच हुई मौसम विभाग की भविष्यवाणी, यूपी के इन शहरों में दिखा ‘महा’ तूफान का असर, बारिश के साथ तेजी से गिरा तापमान
दरअसल, रंजम तोमर का कहना है कि हाल ही में वह मुंबई से दिल्ली आने वाली एयर इंडिया की उड़ान संख्या ए आई 144 से सफर कर रहे थे। इस दौरान उन्होंने पानी की मांग की। इसके बाद एयर इंडिया की सहायिका द्वारा प्लास्टिक के एकल इस्तेमाल लायक गिलास में सबको दिया। इस बाबत जानकारी लेने पर सहायिका ने जानकारी दी कि विमान में उनके पास इसका और कोई विकल्प उपलब्ध नहीं है।
यह भी पढ़ें : यूपी की इस यूनिवर्सिटी में Ph.d की डिग्री लेने आएंगे रतन टाटा और जीएम राव
तोमर का कहना है कि इसके बाद विमान में नाश्ता परोसा गया। हैरान करने वाली बात यह थी कि पूरी प्लेट में प्लास्टिक का भरपूर मात्रा में उपयोग हो रहा था। कटलरी एकल उपयोग प्लास्टिक से बनी थी। उसे प्लास्टिक की ही पॉलीथिन में पैक किया गया था। सैंडविच भी प्लास्टिक की पॉलीथिन में लिपटा हुआ था और अन्य सभी खाद्य पदार्थ जैसे वड़ा, मफिन, रवा आदि को भी पॉलीथिन से ढका हुआ था।
यह भी पढ़ें: लाखों लोगों के लिए बड़ी खुशखबरी, कई सुविधाओं से लैस होंगे Metro Station, महिलाएं कर सकेंगी शॉपिंग
उन्होंने बताया कि हवाई जहाज में उस समय कम से कम 400 लोग सवार थे। ऐसे में कितनी प्लास्टिक व्यर्थ इस्तेमाल हुई। इसके आलावा दिन भर कितनी एयर इंडिया की फ्लाइट देश विदेश में संचालित होती हैं। ऐसे में एयर इंडिया का यह रवैय्या गलत और निंदा करने योग्य है। रंजन तोमर ने इसके बाद सीपीग्राम्स (लोक शिकायत) के माध्यम से केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री को एक पत्र लिखा है। जिसमें उनसे यह अनुरोध किया कि जल्द से जल्द एयर इंडिया में प्लास्टिक उपयोग पर बन लगाया जाए।

Related posts

Leave a Comment