वाइस चीफ एयर मार्शल ने भरी राफेल में उड़ान, कहा- IAF के लिए गेम चेंजर साबित होगा विमान

खास बातेंवाइस चीफ एयर मार्शल ने भारत आने वाले लड़ाकू विमान राफेल में उड़ान भरीवाइस चीफ एयर मार्शल ने कहा- यह एक बहुत अच्छा अनुभव था‘टेक्नालॉजी और हथियार के रुप में राफेल एक बार फिर गेम चेंजर साबित होगा’आरकेएस भदौरिया:भारतीय वायु सेना (IAF) के वाइस चीफ एयर मार्शल आरकेएस भदौरिया (RKS Bhadauria) ने भारत आने वाले लड़ाकू विमान राफेल (Rafale) में उड़ान भरी. उन्होंने यह उड़ान फ्रांस (France) में भरी. इस मौके पर उन्होंने कहा, ‘यह एक बहुत अच्छा अनुभव था. यहां हमने इससे जुड़े कई पाठ सीखे हैं कि कैसे हम राफेल का भारतीय वायु सेना में बेहतर उपयोग कर सकते हैं. इसके अलावा हम यह भी जानेंगे कि एसयू-30 के साथ इसका संयोजन किस तरह किया जा सकता है.’  भदौरिया ने कहा, ‘भारतीय वायु सेना में टेक्नालॉजी और हथियार के रुप में राफेल एक बार फिर गेम चेंजर साबित होगा. आने वाले सालों में यह आक्रामक मिशनों और युद्ध जैसी स्थितियों में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगा. France: Indian Air Force Vice Chief Air Marshal RKS Bhadauria takes a sortie on Rafale aircraft at French Air Force’s Mont de Marsan air base. pic.twitter.com/cqg1EBGWAJ— ANI (@ANI) July 11, 2019फ्रांस के राजदूत ने कहा, अगले 2 महीनों के अंदर भारत को मिल जाएगा पहला राफेल विमान
बता दें कि इसी महीने की शुरुआत में फ्रांस के राजदूत अलेक्जेंडर जीगलर ने कहा था कि भारत को पहला राफेल लड़ाकू विमान दो महीनों के अंदर सौंप दिया जाएगा और यह बिल्कुल समय पर मिलेगा. जीगलर ने बताया था कि भारतीय वायुसेना को सभी 36 राफेल लड़ाकू विमान अगले दो साल में सौंप दिए जाएंगे. उन्होंने कहा था, ‘भारतीय वायु सेना को पहला राफेल लड़ाकू विमान अब से ठीक दो महीने में सौंप दिया जाएगा, मुझे लगता है यह सितंबर में होगा, बिल्कुल समय पर. वहीं, 36 विमान अगले दो साल में आएंगे.’भारत में नियुक्त फ्रांस के राजदूत ने दोनों देशों के बीच साझेदारी की सराहना करते हुए कहा था, ‘उस ट्रैक रिकार्ड को देखिए जो हमने पिछले 50 साल में भारत के साथ सहयोग से विकसित किए हैं. भारतीय वायुसेना के पास फ्रांसीसी प्रौद्योगिकी और भारत-फ्रांस प्रौद्योगिकी वाले विमान हैं क्योंकि हम दोनों देशों ने बड़ी मात्रा में प्रौद्योगिकी का विकास साथ मिलकर किया है.’  टिप्पणियां

Related posts