महरौली मर्डर केस: पत्नी व बच्चों की हत्या करने वाले पर आरोपी पर कड़ी नजर, जानें क्यों

दिल्ली के महरौली इलाके में पत्नी और बच्चों की हत्या कर खुदकुशी का प्रयास करने वाले शख्स को बेहद सुरक्षित वार्ड मे रखा गया है, ताकि उसकी हरकतों पर नजर रखी जा सके। क्योंकि उसने खुदकुशी का प्रयास किया था और पूछताछ के दौरान भी वह खुदकुशी कर मरने की बात कह रहा था, लिहाजा उसकी पूरी निगरानी की जा रही है।.
मामले की जांच से जुड़े पुलिस अधिकारी का कहना है कि उपेंद्र की मन:स्थिति की जांच जरूरी है। आखिर उसने यह कदम क्यों उठाया, इस बात की जांच की जा रही है। दरअसल उसने इस हत्याकांड को सुनियोजित तरीके से अंजा दिया है। इसके लिए उसने नींद की गोली खरीदी और चाकू की भी व्यवस्था की, ताकि वह वारदात को अंजाम दे सके। इसलिए पुलिस यह भी पता लगाने का प्रयास कर रही है कि वह किस हद तक डिप्रेशन था? या फिर कोई और ही वजह थी कि जिसे डिप्रेशन की आड़ में उसने इस हत्याकांड को अंजाम दिया।
महरौली:आरोपी शिक्षक 18 जून को करने वाला था पूरे परिवार की हत्या, लेकिन
हालांकि, पुलिस के हाथ उसके डिप्रेशन मे होने और पत्नी की बीमारी के कारण परेशान होने के अलावा फिलहाल कोई और कारण अभीतक सामने नहीं आया है। दरअसल उसने पुलिस के सामने यह बयान दिया था कि उसकी पत्नी मधुमेह से पीड़ित थी इस कारण वह बेहद परेशान रहती थी। उसे इसके अलावा भी कई बीमारियां हो गई थीं, जिससे उसके शरीर में काफी दर्द रहता था। वह इस कारण कई बार रात भर जगी भी रहती थी। वह पत्नी को परेशान देख काफी दुखी था। परेशान होकर उसने यह कदम उठा लिया।
परिजनों को शव सौंपे : पुलिस ने उपेंद्र के भाई और बुआ के लड़कों की मौजूदगी में शवों का पोस्टमार्टम कराया और उन्हें परिजनों को सौंप दिया। पुलिस ने उसके घरवालों को फोन कर घटना की जानकारी दी थी। उसके भाई ने उसकी पत्नी अर्चना और बच्चों रानिया, रौनक और रानी के शव लिए।
महरौली हत्याकांड: आरोपी शिक्षक ने बताया, कैसे दिया था वारदात को अंजाम
आरोपी को न्यायिक हिरासत में भेजा गया
पुलिस ने रविवार को आरोपी उपेंद्र को कोर्ट में पेश किया, जहां से उसे न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया है। वहीं, पोस्टमार्टम के बाद अर्चना, रानिया, रौनक और रानी के शव उपेंद्र के भाइयों को सौंप दिए गए हैं। पुलिस के मुताबिक, उपेन्द्र के चार अन्य भाई हैं। उपेन्द्र और उसके भाई सतेन्द्र की पत्नी दोनों सगी बहनें हैं। मामले की जांच में जुटी पुलिस ने उसके भाइयों के सामने भी पूछताछ की लेकिन वह इस वारदात को लेकर उसने कुछ ज्यादा नहीं बोला।

Related posts

Leave a Comment