दो भाई लेकर पहुंचे बारात, फिर कुछ ऐसा हुआ कि दुल्हनों को छोड़ दहेज लेकर भागे

हाथरस जिले के सादाबाद थाना इलाके में शनिवार रात स्थानीय जैन पैलेस में कोसी से आई बारात में दो दूल्हों की पहली पत्नियों ने जमकर हंगामा किया। मामले की जानकारी मिलने के बाद मौके पर पहुंची पुलिस और पहली पत्नियों को देख दूल्हे कस्बे में भागते रहे। बाद में दोनों पक्षों में समझौता हो गया। इससे पहले दूल्हों के पिता को पुलिस ने हिरासत में ले लिया था।
कोसी के दो सगे भाइयों की शादी करीब 11 वर्ष पूर्व मथुरा की रहने वाली बहनों से हुई थी। काफी समय से उनके तलाक का मामला कोर्ट में चल रहा है। इसके बावजूद परिवार ने बेटों की पहली शादी की बात छिपाकर ईदगाह कॉलोनी सादाबाद की रहने वाली दो सगी बहनों से दोनों भाइयों का विवाह तय कर दिया। 21 जून की रात बाईपास स्थित जैन पैलेस में विवाह समारोह चल रहा था। इस दौरान मथुरा से दूल्हों की पहली पत्नियां पहुंच गईं और हंगामा कर दिया।
पुलिस को भी इसकी सूचना दी गई। इस बीच लड़के वाले विवाह स्थल से दहेज का सामान लेकर भाग निकले। पुलिस के आने से पहले दूल्हे भी भाग गए। लड़की पक्ष के लोगों को जब पता चला कि दूल्हे पहले से शादीशुदा हैं तो वे भी भड़क गए। इस बीच उन्हें पता चला कि दूल्हे और उनके परिजन दहेज का सामान लेकर भाग गए हैं तो वे भी उनकी तलाश में निकल पड़े। रात में ही कई घंटे तक कस्बे में दूल्हों की तलाश की गई। जहां भी पता चलता कि दूल्हे छिपे हैं वहां दुल्हन पक्ष के लोग पहुंच जाते।
इस बीच पुलिस ने विवाह स्थल से दूल्हों के पिता को हिरासत में ले लिया। पहली पत्नियां, लड़का पक्ष और पीड़ित पक्ष कोतवाली पहुंचे और बाद में दहेज का सामान वापस करने के बाद दूल्हा पक्ष व दुल्हन पक्ष में सुलह हुई। इस बीच कॉलोनी की युवतियों ने विवाह से इनकार कर दिया। सुबह बारात बिना दुल्हनों के बैरंग लौट गई। 

Related posts

Leave a Comment