पाकिस्तान ने सिख जत्थे को वीजा देने से किया इनकार, विदेश मंत्रालय ने जताई नाखुशी

नई दिल्ली। भारत ने ‘आधिकारिक सिख जत्थे’ को पाकिस्तान ( Pakistan ) द्वारा वीजा नहीं दिए जाने पर पाकिस्तान सरकार के समक्ष अपना जोरदार विरोध दर्ज कराया है। इस जत्थे में 87 श्रद्धालु शामिल हैं, जो सिख गुरु अर्जुन देव की शहादत की बरसी पर होने वाले आयोजन में शामिल होने के लिए पाकिस्तान जाना चाहते हैं। यह जानकारी शुक्रवार को सूत्रों ने दी।
सूत्रों ने बताया कि विदेश मंत्रालय ने इन तीर्थयात्रियों के लिए 1974 के धर्मस्थल की यात्रा करने के द्विपक्षीय समझौते के आधार पर वीजा जारी करने का अनुरोध किया है।
SCO Summit: PM मोदी और इमरान खान के बीच हुआ अभिवादन, पाक विदेशमंत्री का दावा
पाक से वीजा देने की अपील
सूत्रों के मुताबिक, भारतीय विदेश मंत्रालय ने पाक उच्चायोग में इस संबंध में आपत्ति दर्ज कराते हुए चिंता व्यक्त की है। मंत्रालय ने पाक उच्चायोग द्वारा धार्मिक भावनाओं और भारतीय तीर्थयात्रियों की भक्ति पर विशेष रूप से पाकिस्तान की ओर से की गई अवहेलना पर चिंता व्यक्त की और भारतीयों के निजी समूह को प्रतिबंधात्मक वीजा प्रदान करने को लेकर बात रखी। विदेश मंत्रालय ने पाकिस्तान को से आह्वान किया है कि फौरन बिना किसी प्रतिबंध के सभी तीर्थयात्रियों को वीजा दें।
SCO सम्मेलन: दुनिया के सामने शर्मसार हुए पाकिस्तान के पीएम इमरान खान, तोड़ा प्रोटोकॉल
अटारी बॉर्डर पर धद्धालुओं का प्रदर्शन
शुक्रवार को वाघा अटारी बॉर्डर पर 130 सिख श्रद्धालुुओं ने प्रदर्शन किया। उनके पास वीजा होने के वाबजूद उन्हें पाकिस्तान नहीं जाने देने पर सभी ने विरोध किया। वे सभी पाक स्थित गुरुधामों के दर्शन के लिए पाकिस्तान जा रहे थे।
बता दें कि भारत के विभिन्न राज्यों से शुक्रवार को 130 सिख श्रद्धालुओं का जत्था पाकिस्तान जाने के लिए अटारी रेलवे स्टेशन पर पहुंचा। इन श्रद्धालुओं के पास सात दिन का वीजा होने के बावजूद उनको अटारी रेलवे स्टेशन पर नहीं जाने दिया गया। उनको इस दौरान काफी परेशानियों का सामना करना पड़ा।
 
Read the Latest World News on Patrika.com. पढ़ें सबसे पहले World News in Hindi पत्रिका डॉट कॉम पर. विश्व से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter पर.

Related posts

Leave a Comment