राणा कपूर ने कहा – यस बैंक में वापसी का कोई इरादा नहीं, 13 फीसदी टूटे बैंक के शेयर्स

नई दिल्ली। यस बैंक के पूर्व CEO और संस्थापक राणा कपूर ( Rana kapoor ) मौजूदा CEO रवनीत गिल और बैंक बोर्ड के सपोर्ट में अब खुलकर सामने आ गए हैं। उन्होंने कहा है कि उन्हें बैंक के नए प्रबंधन पर पूरा भरोसा है और उनकी कोई इच्छा नहीं है कि वो बैंक बोर्ड में शामिल हों। इस संबंध में राणा कपूर गुरुवार (13 जून 2019) को तीन ट्विट किए। इस ट्वीट में उन्होंने साफ तौर पर कहा कि राणा कपूर प्रोमोटर ग्रुप पूरी तरह से बोर्ड के समर्थन में है और बीते दिन (12 जून 2019) बैंक के 15वें एजीएम बैठक में सभी 19 रिजॉल्युशन को सर्विसम्मति से पास कर दिया गया है।
ONGC के कर्मचारी नहीं उठा पाएंगे गोल्फ का लुत्फ, अहमदाबाद और वड़ोदरा के Golf Course बेचेगी सरकार
ट्वीट में क्या लिखा
यस बैंक के इस पूर्व प्रोमोटर ने गुरूवार अपने पहले ट्वीट में लिखा, “राणा कपूर प्रोमोटर ग्रुप ने अपना पूरा समर्थन देते हुए बीते दिन यस बैंक के 15वें एन्युअल जनरल बैठक में सभी 19 रिजॉल्युशन को पास कर दिया गया है। यस बैंक की लीडरशीप टीम, एमडी व सीईओ रवनीत गिल और बैंक बोर्ड के सभी निदेशकों को मेरा पूरा समर्थन है।”

The Rana Kapoor promoter group fully supported and voted in favor of all 19 resolutions at the 15th AGM yesterday 12th June, 2019. The @YESBANK leadership team, MD & CEO Shri Ravneet Gill and Board of Directors have my fullest support. (1/3)
— Rana Kapoor (@RanaKapoor_) June 13, 2019

Some media reports have suggested that I am attempting a comeback to the Board, inspite of my unequivocal denial to them. I re-iterate that I have fullest confidence and conviction in the management under Shri Ravneet Gill’s leadership and Board of Directors. (2/3)
— Rana Kapoor (@RanaKapoor_) June 13, 2019
तीन ट्वीट्स की सीरीज में उन्होंने अपने दूसरे ट्वीट में लिखा, “कुछ मीडिया रिपोट्र्स में कहा गया है कि मैं बैंक बोर्ड में अपनी वापसी करने में लगा हूं, हालांकि मैंने लगातार इस बात को नकार दिया है। मैं एक बार फिर कहता हूं कि मुझे बैंक के प्रबंधन और श्री रवनीत गिल के लीडरशीप और बोर्ड निदेशकों पर पूरा भरोसा है।”
अमरीकी विदेश सचिव ने कहा- भारत हमें अपने बाजार में जगह दे, खुल सकती जीएसपी दर्जा वापस करने की राह
इसी सप्ताह में खबर आई थी राणा कपूर ने बैंक को बीते मई माह में दो पत्र लिखा था। इस पत्र में उनहोंने फिर से बैंक बोर्ड वापस बुलाये जाने और उन्हें दी जाने वाले सुविधाओं व सैलरी का हिसाब-किताब पूरा करने को कहा था। कई बोर्ड मेंबर्स में ने उनकी इस डिमांड को गैर-जरूरी बताया जिसके बाद बोर्ड के सदस्यों में ही टेंशन को माहौल बन गया। हालांकि, गुरुवार को किए गए ट्वीट्स में कपूर ने इससे साफ इन्कार कर दिया है।
यस बैंक के शेयर्स लुढ़के
बता दें कि पिछेल दिन यस बैंक के एजीएम बैठक के बाद गुरुवार को यस बैंक के शेयरों में एक बार फिर बड़ी गिरावट देखने को मिली। गुरुवार को दिनभर के कारोबार के बाद यस बैंक के शेयर्स 13.47 फीसदी टूटकर बंद हुए। कारोबारी सत्र के शुरुआत में यस बैंक के स्टॉक्स 130.80 रुपए प्रति शेयर के भाव पर खुले, लेकिन 116 रुपए प्रति शेयर के भाव पर बंद हुए। इसके पहले कारोबारी दिन यानी बीते बुधवार को यस बैंक के शेयर्स 134.75 रुपए प्रति शेयर की दर पर बंद हुए थे।
Business जगत से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter पर और पाएं बाजार, फाइनेंस, इंडस्‍ट्री, अर्थव्‍यवस्‍था, कॉर्पोरेट, म्‍युचुअल फंड के हर अपडेट के लिए Download करें Patrika Hindi News App.

Related posts

Leave a Comment